सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

मीना के संदेश को जीवन में उतारें छात्र-छात्राएं

कछौना, हरदोई। विकासखंड कछौना के प्राथमिक विद्यालय घनश्यामनगर में मीना का जन्म दिवस मनाया गया। यूनीसेफ के तहत परिषदीय विद्यालयों में मीनामंच की स्थापना की गई है। इसका उद्देश्य बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करना है।

शिक्षिका अंजू सिंह ने छात्राओं को बताया कि मीना एक काल्पनिक चरित्र है। मीना मंच के कार्यक्रमो से बालिकाओं में आत्मशक्ति का विकास हुआ है। अंजू जी ने कहा कि लिंगभेद को समाप्त कर लड़कियों को बराबरी का स्थान देना चाहिए।

बालिकाओं को साफ सफाई, चाइल्ड हेल्प लाइन नंबर, वुमेन हेल्प लाइन नंबर, इमरजेंसी नंबर, पुलिस प्रशासन के नम्बरों की जानकारी दी गयी। आवश्यकता पड़ने पर इन नम्बरों पर काल करके सहायता ली जा सकती है। वहीं बालिकाओं को गुड टच, बैडटच के बारे में विस्तार से बताया और साथ में महिमा, विमला, सोनम का जन्म दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया।

इस अवसर पर शिक्षक, विद्यालय परिवार, विद्यालय प्रबंध समिति, के सदस्य व अभिभावकों ने बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता