कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

खण्ड विकास अधिकारी को पंचायत सहायक के विरुद्ध कार्यवाई का दिया निर्देश

मुख्य विकास अधिकारी ने दो बूथों का किया निरीक्षण

कछौना, हरदोई। तीसरी लहर के चलते टीकाकरण की जमीनी हकीकत को जानने के लिए मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राणा ने दो टीकाकरण बूथों का निरीक्षण किया। पंचायत सहायक अनुपस्थित पाए जाने पर खंड विकास अधिकारी को पंचायत सहायक के खिलाफ कार्यवाई का निर्देश दिया।

बताते चलें कि वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। प्रभारी अधीक्षक डॉ० किसलय बाजपेई ने बताया कोविड-19 के संक्रमण को रोकने का एकमात्र उपाय कोविड-19 गाइडलाइन के अनुसार जीवन पद्धति जीना होगा। कोरोनावायरस रोकने के लिए समय-समय पर हाथ धोना, मास्क व टीकाकरण ही उपाय है। स्वास्थ्य विभाग की टीम नेतृत्व में आंगनबाड़ी, शिक्षा विभाग, पंचायत विभाग, पूर्ति विभाग, ग्राम प्रधानगण, जनप्रतिनिधियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं ने टीम भावना से विकासखंड कछौना ने टीकाकरण में अच्छा लक्ष्य प्राप्त किया है। अब वैक्सीन किशोरों को 15 से 18 वर्ष के लिए भी आ गई है। टीकाकरण में लगाई गई टीमें घर-घर जाकर सर्वे कर प्रथम डोज लगवाने वालों को व दूसरी डोज से वंचित लोगों व 15 से 18 वर्ष के किशोरों की सूची बनाई जा रही है। जिन्हें टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

वहीं 60 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोविड-19 टीके की बूस्टर डोज दी जानी चाहिए। क्योंकि अब टीके की कमी जैसी कोई समस्या नहीं है। इसलिए उन लोगों को भी बूस्टर डोज देने के बारे में सोचा जाना चाहिए जिन्हें टीके की दोनों खुराक के लिए आठ से नौ माह बीत चुके हैं।

निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने टीकाकरण को शतप्रतिशत करने का निर्देश दिया। इस दौरान प्रभारी अधीक्षक डॉ० किसलय बाजपेई, खण्ड विकास अधिकारी प्रमोद अग्रवाल, एडीओ पंचायत प्रभारी संतोष कुमार, सहायक निदेशक बचत यशवीर सिंह, स्वास्थ्य कर्मी अमित सिंह, प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार सिंह आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता