संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

2022 तक देश के अंदर कोई भी ऐसा गरीब नहीं होगा जिसके पास सिर ढकने के लिए छत न हो

प्रदेश के अंदर हम लोगों ने वर्ष 2022 का एक लक्ष्य रखा है। हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने एक लक्ष्य निर्धारित किया है कि वर्ष 2022 तक देश के अंदर कोई भी ऐसा गरीब न हो जिसके पास सिर ढकने के लिए छत न हो । इस क्रम में उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र में 24 लाख आवास बनने हैं और शहरी क्षेत्र में 15 लाख आवास। हम लोगों ने ग्रामीण क्षेत्र में 9.77 लाख घरों की कार्ययोजना बनाई है अपितु लगभग 8.70 लाख से अधिक आवास प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत गरीबों को उपलब्ध करा चुके हैं ।

ग्रामीण क्षेत्र में 24 लाख व शहरी क्षेत्र में 15 लाख आवास प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देने में तो सफल होंगे ही, साथ-साथ बिल्डर्स व बॉयर्स की जो समस्या जो प्रदेश के अंदर है। खासतौर पर नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस-वे में भी समस्याओं का समाधान करने में सफल होंगे । जो बिल्डर्स ईमानदारी के साथ बॉयर्स की समस्या का समाधान करना चाहेगा, सरकार उसके साथ उतनी ही संवेदनशीलता के साथ पेश आएगी लेकिन जो बिल्डर्स इन सबके बावजूद अपने पुराने ढर्रे में बदलाव नहीं करेगा, सरकार उसके साथ उतनी ही सख्ती से निपटेगी । रेरा के अंतर्गत इस प्रकार की कार्रवाई प्रारंभ हो गई है । हम लोग बॉयर्स की समस्या का समाधान भी चाहते हैं और बिल्डर्स को भी समस्या न हो । लेकिन अंतत: हम लोग बॉयर्स के हितों को ध्यान में रखकर कार्य करेंगे और सरकार इसके लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है ।