सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

पीड़ित पक्ष पर शान्तिभंग की काररवाई, दिव्यांग ने रोकर एसपी से बेनीगंज थाने की करतूत बतायी

बेनीगंज/हरदोई : कोतवाली क्षेत्र के अटिया गांव निवासी अशोक कुमार पुत्र पंचम मौर्य ने सदर तहसील सभागार में उपस्थित पुलिस कप्तान को रो रोकर बताते हुए कहा कि मेरे ही गांव का निवासी मुन्ना कश्यप व छुन्ना पुत्र राजाराम कश्यप आए दिन शराब पीकर मेरे दरवाजे पर आकर मुझे कमजोर व विकलांग जानकर अपनी जबरदस्ती दिखाते हुए मुझसे व मेरे परिजनों से गाली गलौज व लड़ाई झगड़ा करता है जिससे मेरा वह मेरे परिजनों का गांव में रहना मुश्किल हो गया है।

बीती दिनांक 23/11/22 को शाम करीब 6 बजे उपरोक्त मुन्ना मेरे दरवाजे पर शराब पीकर हाथ में धारदार लोहे का बांका लेकर मुझे व मेरे परिजनों को गंदी गंदी गालियां देते हुए मारने पर आमादा हो गया। जिसे उसकी मां ने समझाबुझा कर शांत कराया। उसने कहा उक्त घटना का वीडियो भी मेरे पास उपलब्ध है।उसी दौरान मेरा भतीजा विनोद पुत्र राम लखन मौर्य मौके पर आकर मुझे बचाने लगे तो मेरे भतीजे को भी मारा-पीटा। जिसके संबंध में कोतवाली बेनीगंज पर शिकायती पत्र मेरे द्वारा दिया गया था पर स्थानीय पुलिस द्वारा मेरे ही भतीजे विनय कुमार विनोद कुमार पुत्र गण राम लखन वा गांव के बुद्धा पुत्र पहलू आदि का शांति भंग के तहत कार्यवाही कर दी गई। जबकि दबंग किस्म के विपछी मुन्ना वा उसके भाई छुन्ना पर अब तक किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जिससे पूरे परिवार में भय का माहौल व्याप्त है। विश्व विकलांग दिवस पर विकलांग की पीड़ा सुन पुलिस कप्तान ने पीड़ित अशोक को उचित कार्यवाही का भरोसा दिलाते हुए संबंधित को निर्देशित किया।