संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

चिर-प्रतीक्षित कृति ‘समग्र सामान्य हिन्दी’ नवम्बर के प्रथम सप्ताह से आप सभी के लिए उपलब्ध

October 25, 2021 0

आत्मीय विद्यार्थिवृन्द!आप सभी के समुज्ज्वल और भास्वर भविष्य की कामना है।आप सभी के प्रश्न का उत्तर, ” गुरुदेव ‘समग्र सामान्य हिन्दी’ कब तक उपलब्ध हो जायेगी?”, मिलनेवाला है। आपमें से अधिकतर विद्यार्थियों ने ‘युक्ति पब्लिकेशंस’, […]

गुरुदेव ‘आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय जी’ की कृति– ‘समग्र सामान्य हिन्दी’ नवम्बर-माह से उपलब्ध

October 24, 2021 0

● राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’ चिर-प्रतीक्षित ‘समग्र सामान्य हिन्दी’ की सम्पूर्ण सामग्री मुद्रणार्थ सम्बन्धित मुद्रणालय में प्रेषित की जा चुकी है। अगले सप्ताह तक मुद्रित होकर सप्ताहान्त से नवम्बर के प्रथम सप्ताह तक ‘अमेज़न’, ‘फ़्लिप […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

October 23, 2021 0

◆ शब्द– अल्ला और अल्लाह।★ अल्ला– यह ‘संस्कृत-भाषा’ का शब्द है, जो लिंग-निर्धारण के अन्तर्गत स्त्रीलिंग का शब्द है। अधिकतर कोशकार ‘अल्ला’ शब्द को ‘अरबी-भाषा’ बताते हैं, जो कि ‘भयंकर’ दोष है। शब्दभेद की दृष्टि […]

‘समग्र सामान्य हिन्दी’ : देश के प्रत्येक प्रतियोगी विद्यार्थी के लिए उपयोगी और महत्त्वपूर्ण

October 8, 2021 0

★ समीक्षक– राघवेन्द्र कुमार त्रिपाठी ‘राघव’ आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की अब तक की प्रकाशित सभी सामान्य हिन्दी की पुस्तकों :– ‘नालन्दा सामान्य हिन्दी’, ‘मानक सामान्य हिन्दी’, ‘बृहद् सामान्य हिन्दी’, ‘प्रामाणिक सामान्य हिन्दी’, ‘संजीवनी वस्तुनिष्ठ […]

Giloya is a safe and effective Ayurveda medicine

October 5, 2021 0

PIB : Ministry of Ayush has recently noticed safety concerns on use of Guduchi (Tinospora cordifolia) that were published in social media and in some scientific journals. This advisory is being issued to confirm that Guduchi (Tinospora cordifolia) is […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय का ‘मौखिक और लिखित भाषा-प्रयोग में अशुद्धियाँ’ पर आगरा में व्याख्यान

October 5, 2021 0

भाषाविज्ञानी और समीक्षक आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय को ‘नागरी प्रचारिणी सभा’, आगरा की ओर से आयोजित एक सारस्वत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमन्त्रित किया गया है। वे ६ अक्तूबर को नागरी प्रचारिणी […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक पाठशाला

September 27, 2021 0

● समाचार-चैनल : ‘न्यूज़ 24’ यहाँ सबसे ऊपर एक चित्र है। इस चित्र के अन्तर्गत दिखाये गये समाचारों का शब्दानुशासन के निकष पर हम भाषिक परीक्षण करेंगे। आइए! चलते हैं, अपनी ‘प्रायोगिक भाषिक कर्मशाला में।अब […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

September 26, 2021 0

निम्नांकित शब्दों को सविस्तार समझने के लिए अपने स्वस्थ तर्क-चिन्तन को बोध का आधार बनायें। शुद्ध और उपयुक्त शब्द :– समाधि, उठावनी, पंचतत्त्व में विलीन, पार्थिव शरीर तथा पन्ना-पृष्ठ/पेज। ★ समाधि– इस शब्द को लेकर […]

आइए! अपने ‘आठ अभिन्न’ मित्रों से मिलवाऊँ

September 24, 2021 0

★ आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक सद्वृत्ति— पश्चात्ताप करने का अवसर नहीं देती।दो दर्पण– असत्य सम्भाषण करने से रक्षा करता है।तीन ज्ञान– लोक को सुशिक्षित-सुदीक्षित करने में सहायक सिद्ध होता है।चार अध्यात्म– लोभ-लिप्सा के स्पर्श […]

आचार्य पाण्डेय ने जिस रीति से हम सभी को एक अनुपम सीख दी है, वह ऐतिहासिक है : पिलप्पा पिण्ड्या

September 24, 2021 0

‘अन्तरराष्ट्रीय हिन्दी विकास परिषद्’, डिण्डिगुल, तमिलनाडु की आन्तर्जालिक व्याख्यानमाला सम्पन्न “आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय के ज्ञान का प्रभाव अनन्त काल तक रहेगा”– प्रो० पिलप्पा पिण्ड्या “माना कि आज विश्व में हिन्दी का बृहद् स्तर पर […]

“सिंहासन ख़ाली करो कि जनता आती है”

September 23, 2021 0

आज (२३ सितम्बर) ओजस्वी कवि ‘दिनकर’ जी की जन्मतिथि है। ★ आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय ऐतिहासिक चेतना के प्रखर वाणीदायक राष्ट्र-कवि को हमारा नमन। राष्ट्रकवि दिनकर ने हिन्दी-काव्य को छायावाद/रहस्यवाद की कुहेलिका (कुहासा) से बाहर […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय के ‘मार्गदर्शन’ में ‘गाइड और फ़ाइल-जैसी पुस्तकों से दूर रहें’

September 21, 2021 0

••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••आप ‘अमर उजाला उड़ान’ के कल (२२ सितम्बर) के बुद्धवासरीय/बुद्धवारीय अंक में, छिछले स्तर के प्रकाशकों-द्वारा जो ‘गाइड’ और ‘फ़ाइल’ प्रकाशित की जाती हैं, उनसे हमारे विद्यार्थियों को जिस प्रकार से भटकाया जाता है और […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय का संदेश

September 19, 2021 0

सामर्थ्य के अवयव (तर्क अथवा वाक्य के पञ्च अंग :– उदाहरण, उपनयन, निगमन, प्रतिज्ञा तथा हेतु) सभी के भीतर हैं; आवश्यकता है, टटोलने की। सामर्थ्य पहले भ्रूणावस्था में रहती है, फिर भीतर-ही-भीतर उसका विकास होता […]

‘आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक पाठशाला’

September 18, 2021 0

◆ ऊपर दिये गये ‘चित्र’ को गम्भीरतापूर्वक देखें।● न हिन्दी का ज्ञान और न ही अँगरेज़ी का बोध!‘बस-विभाग’ की विमूढ़ता या फिर ‘वाराणसी विकास प्राधिकरण’ का प्रमाद कहा जाये– न हिन्दी का संज्ञान और न […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

September 17, 2021 0

प्रश्न– आपको अधोलिखित शब्दों में से जो शब्द/ शब्दप्रयोग अशुद्ध लगते हों, उन्हें शुद्ध करते हुए लिखें—१- समन्दर२- जीवन में सुख और दुख दोनों है।३- पाठ्येत्तर और शिक्षणेतर४- ऋषि पातंजली एवंम् पाणिनि५- उसके साँसों/श्वास में […]

हिन्दी की पाठशाला आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

September 12, 2021 0

● निम्नांकित वाक्यों/वाक्यांशों में से जो शुद्ध हों, उन्हें लिखें। निर्देश– आपका प्रथम उत्तर ही मान्य होगा। किसी के उत्तर पर कोई प्रतिक्रिया न करें। पाठशाला की ओर से आयोजित इस परीक्षा में समस्त सदस्यवृन्द […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

September 11, 2021 0

••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••◆ प्रश्न– निम्नांकित वाक्यांशों में से कौन-से शुद्ध हैं, उन्हें यहाँ लिखें/टंकित करें?१- संवेदनाओं को तीव्रतर से तीव्रतर अनुभव।२- प्रेमचन्द्र के सर्वश्रेष्ठ कहानियां।३- संकल्पों को लेनी हैं।४- चक्रवाती तूफानों का भारी आतंक।५- साहित्य की निर्माण, […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

September 6, 2021 0

◆ निम्नांकित वाक्यों/वाक्यांशों को शुद्ध करें :–१- फुलों का विकसित होने से।२- गाड़ी से तीन सवारी गिरा।३- शपथनी का कथन।४- पौधरोपण की।५- उसने श्राप दी।६- महिला कार्यकर्ता आते। शुद्ध उत्तर हैं :–(१) कलियों के विकसित […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की रविवासरीय/रविवारीय पाठशाला में ‘कल’

September 4, 2021 0

लगभग चार वर्षों से देश के शीर्षस्थ हिन्दी-दैनिक समाचारपत्र ‘दैनिक जागरण’ में हमारी ‘भाषा की पाठशाला’ अनवरत प्रकाशित होती आ रही है। पहले यह ‘प्रति शनिवार’ को सप्तरंग पृष्ठ पर अपना भाषिक आकार ग्रहण करते […]

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय का संदेश

September 4, 2021 0

जो भी जन यह मानते हैं कि तपस्या करने के लिए किसी ‘उपत्यका’ (पहाड़ के समीप का भूभाग/भू-भाग/भू का भाग– षष्ठी तत्पुरुष समास; सम्बन्ध कारक) अथवा ‘अधित्यका’ (पहाड़ के ऊपर का समतल भूभाग) की आवश्यकता […]

1 2 3 25